बुधवार, 31 दिसंबर 2008

बिदा 2008

सारे हसीं सपनो को
नित नई बातों को
जीत के आनंद को
फ़िर एक बार संजोने का
ख्वाब दिलाने
बिदा हो रहा साल २००८
जो कुछ आपने हासिल किया बीते दिनों
उनकी यादे जुटाने का दिन ३१ दिसम्बर
आप सभी को विदा दे रहा है
आईये हम भी विदा कर दे इसे
और संजोये खुशियों की नई सौगातों के आरम्भ के अनमोल समय को
करें पलक पावडे बिछाकर स्वागत २००९ का

कोई टिप्पणी नहीं: