रविवार, 7 दिसंबर 2008

रोजगार

नई पीढी अब उच्च शिक्षा को समर्पित कर दी गई । ये पीढी अब देश में चिकित्सक, अभियंत्री, कम्प्यूटर क्षेत्र के जानकारों की एक बड़ी टीम तैयार करते कराते, प्रबंध की दिशा में आगे बढ़ गई है । एम बी ऐ को अत्यावश्यक मानते हुए पढ़ाई जारी रखे है।
मगर जनाब हमारे इन्फ्रास्ट्राक्चर में कोई बदलाव नही है आने वाले समय में भी हम नौकरियाँ या रोजगार संसाधन की उपलब्धता पर कोई विचार नही किए है । यह पढ़ी लिखी उच्च दक्षता वाले नौजवान जायेंगे कहाँ सोचा है?

3 टिप्‍पणियां:

परमजीत बाली ने कहा…

कौन सोचेगा? सरकार को आपसी खीच तान से पहले फुर्सत तो मिले।जैसा महौल आज कल बन रहा है उस से तो भविष्य अंधकारमय लगता है।

राज भाटिय़ा ने कहा…

???बहुत सटीक सवाल किया आप ने????
धन्यवाद

डॉ .अनुराग ने कहा…

सटीक प्रशन पर जवाबदेही किसकी ?