बुधवार, 9 सितंबर 2009

धुंधलका और रौशनी




3 टिप्‍पणियां:

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

बहुत प्यारे चित्र हैं।
-Zakir Ali ‘Rajnish’
{ Secretary-TSALIIM & SBAI }

Nitish Raj ने कहा…

अच्छा दृश्य है।

राज भाटिय़ा ने कहा…

अति सुंदर