रविवार, 16 दिसंबर 2012

वड़ोदरा इंस्टिट्यूट ऑफ़ न्यूरोलॉजिकल साइंसेज का विशेषज्ञ शिविर संपन्न














  ब्रेन ट्यूमर,लकवा,ब्रेन हैमरेज और मिर्गी जैसी गंभीर बिमारियों के निदान व चिकित्सा परामर्श के लिए वन विभाग और सेवा संस्था द्वारा संयुक्त रुप से आयोजित निशुल्क चिकित्सा परामर्श शिविर में सैकडों मरीजों का उपचार किया गया। इस चिकित्सा शिविर में वडोदरा इंस्टीट्यूट आफ न्यूरोलाजिकल साईंसेज के विशेषज्ञ चिकित्सकों ने अपनी सेवाएं दी।
शिविर संयोजक राजेश घोटीकर ने बताया कि सोश्यल एम्पावरमेन्ट वोलेन्टरी एसोसिएशन (सेवा) तथा वन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में शिविर का आयोजन रोटरी हाल में किया गया। शिविर में वडोदरा इंस्टीट्यूट आफ न्यूरोलाजिकल साइंसेज के न्यूरो सर्जन डॉ.मोनिश मल्होत्रा,डॉ.सुरेश नायक,डॉ.विरल महेता,न्यूरो फिजिशियन डॉ.राकेश शाह तथा आर्थोपीडीक सर्जन डॉ.हेमन्त माथुर मौजूद थे। उक्त विशेषज्ञ चिकित्सकों ने ब्रेन हेमरेज,ब्रेन ट्यूमर,लकवा,मिर्गी,सेरेब्रल पाल्सी,कमर दर्द,स्लिप डिस्क,स्पान्डिलाईटिस,जोडो का दर्द,जाइन्ट रिप्लेसमेन्ट सर्जरी इत्यादि से सम्बन्धित रोगों का उपचार किया।
 श्री घोटीकर ने बताया कि  रतलाम नगर के साथ साथ जिले भर के सैकडों मरीजों ने शिविर में आए विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाओं का लाभ लिया। शिविर स्थल पर भी मरीजों का पंजीयन किया गया और अंतिम समय तक पंजीयन कराने वाले रोगियों की भीड उमडती रही। शिविर आयोजन में वडोदरा इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर अजय कपूर भी विशेष रुप से उपस्थित थे।
    निशुल्क चिकित्सा शिविर के आयोजन में वन विभाग के अधिकारियों तथा सोश्यल एम्पावरमेन्ट वोलेन्टरी एसोसिएशन सेवा संस्था के अरविन्द व्यास,राणा प्रताप सिंह सिसौदिया,अभय व्यास,राजेश द्विवेदी इत्यादि का सराहनीय सहयोग रहा।

कोई टिप्पणी नहीं: