मंगलवार, 17 सितंबर 2013

ye dosti










रविवार, 15 सितंबर 2013

poster


मंगलवार, 10 सितंबर 2013

महाआरती




इसरथुनी पंचमुखी श्री महागणेश मंदिर पर आज ऋषि पंचमी की शाम को रतलाम जिले के ए  एस पी  श्री प्रशांत जी चौबे ने महाआरती का लाभ लिया।
वीडियो इसी अवसर का 

गणेश चतुर्थी पर स्थापन कार्यक्रम





इसरथुनी महागणेश मंदिर पर छप्पन भोग प्रसादी तथा सहस्त्र धारा अभिषेक का भव्य आयोजन संपन्न हुआ।  मुख्य जजमान श्रीमती एवं श्री संजय दवे थे।
गणेश चतुर्थी पर स्थापन कार्यक्रम के दृश्य  

सोमवार, 9 सितंबर 2013

गणेशोत्सव का धूमधाम पूर्वक आयोजन

पंचमुखी श्री महागणेश मंदिर इसरथूनी पर सार्वजानिक गणेशोत्सव का धूमधाम पूर्वक आयोजन प्रारंभ किया गया।  श्री गणेश स्थापना का लाभ श्री संजय दवे जी ने सपत्निक प्राप्त किया।  श्री ॐ सिद्धि विनायक ट्रस्ट द्वारा आयोजित गणेशोत्सव के अंतर्गत सहस्त्रधारा अभिषेक, छप्पन भोग प्रसादी एवं भजन संध्या का आयोजन दस दिवसीय गणेशोत्सव के निमित्त किया गया है ।  दिनांक १० सितम्बर २०१३ को संगीतमय सुन्दरकाण्ड का महा आयोजन रखा गया है उक्त जानकारी ओम नारायण शर्मा ने देते हुए बताया कि रतलाम नगर से दूर प्राकृतिक वातावरण में निर्मित पंचमुखी महागणेश  मंदिर पर उक्त कार्यक्रमों में रतलाम नगर एवं ग्राम इसरथुनी  के अनेको धर्मालुओं ने भाग लिया।
सुरेन्द्र जायसवाल, शरद जोशी, राजेश घोटीकर, रमेश सोनी, दिलीप बर्वे, अशोक बेर्गे, रमेश जोशी आदि उपस्थित थे।  भजन संध्या में कमलकांत खंडेलवाल एवं पार्टी ने भजनों की प्रस्तुति दी।  संध्या आरती का लाभ ने लिया।     

रविवार, 8 सितंबर 2013

महागणेशोत्सव का भव्य सार्वजनिक आयोजन


प्राकृतिक सुरम्य शांत स्थल इसर्थुनी झरने के समीप बनाए गए पंचमुखी श्री महागणेश मंदिर पर दस दिवसीय महागणेशोत्सव का भव्य सार्वजनिक आयोजन किया जा रहां है।  कार्यक्रम की जानकारी देते हुए श्री ॐ सिद्धि विनायक मंदिर ट्रस्ट के सुरेन्द्र जायसवाल एवं ॐ नारायण शर्मा ने बताया कि गणेशोत्सव के प्रथम दिन गणेश चतुर्थी के अवसर पर ९ सितम्बर २०१३ को दोपहर १२ से २ बजे तक विभिन्न कार्यक्रम होंगे जिनमे पार्थिव गणेश स्थापना , पंचमुखी महागणेश का सहस्त्रधारा अभिषेक, छप्पन भोग प्रसादी, सायं ४ बजे भजन संध्या एवं शाम ७ बजे महाआरती का कार्यक्रम होगा।
सम्पूर्ण देश भर के द्वितीय पंचमुखी श्री महागणेश मंदिर पर समस्त दस दिवसीय कार्यक्रम धार्मिक रूप से पंचमुखी श्री महागणेश उत्सव आयोजन समिति के तत्वावधान में होंगे।   

सोमवार, 2 सितंबर 2013

इसरथुनी के पंचमुखी श्रीमहागणेश मंदिर प्रांगण के मुख्य प्रवेश द्वार की स्थापना

इसरथुनि स्थित पर पंचमुखी श्रीमहागणेश की प्रतिमा स्थापित की जा चुकी है। मंदिर का भव्य हाल निर्मित किया जा चुका है सम्पूर्ण ५ बीघा भूमि पर बाऊंड्री वाल और बगीचा बनाया जा चुका है। आज पुष्य नक्षत्र की वेला में विधि विधान से पूजन करके मंदिर प्रांगण के मुख्य प्रवेश द्वार स्थापित किया जाने का कार्य प्रारम्भ किया गया।
कार्यक्रम के प्रमुख जजमान डॉ राजेश शर्मा थे।  मंदिर निर्माण के लिए भूमि प्रदान करने का लाभ लेने वाली शहर की धर्मालु श्रीमती गुलाब बाई जाट, उनके पोते तथा मल्ल विद्या के अंतर्गत पदवी प्राप्त सूरज जाट ने भी पूजन कार्यक्रम में भागीदारी की।
४० टन वजनी लाल पत्थरों से बनाया गया मुख्य प्रवेश द्वार उत्सवपूर्वक रखे जाते समय श्री ॐ सिद्धि विनायक मंदिर ट्रस्ट  सर्व श्री सुरेन्द्र जायसवाल, ओम नारायण शर्मा तथा पंचमुखी श्री महागणेश  उत्सव आयोजन समिति के राजेश घोटीकर, दिलीप बर्वे, रमेश जोशी, राणाप्रताप सिंह सिसोदिया, प्रदीप रावल, अरविन्द व्यास, आशीष सोमानी, दिनेश चौहान तथा नगर के डॉ गिरीश गौड़, श्रीमती लक्ष्मी गौड़, श्री भट्ट , श्री मोहन भाई, मनोहर आदि अनेक धर्मालुजन उपस्थित थे.
शहर से १२ की मी दूर प्रकृति की सुरम्य गोद में इसरथुनी झरने के समीप यह मंदिर भारत भर का दूसरा बड़ा पंचमुखी गणेश मंदिर है.
झलकिया इसी कार्यक्रम की :……………………